दुल्हन खोजने के नाम पर सरेआम टीवी पर लडकियों से इस्लाम कबूलने का समझौता?


Controversial Enga Veetu Mapillai

TRP की होड़ में भारतीय टीवी चैनल्स जिस तरह से सीमा लाँघन प्रतियोगिता में बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और हर बार एक नया कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं, यह सच में एक भौचक प्रयास है. कुछ समय पहले सोनी टीवी की सीरियल ‘पहरेदार पिया की’ में जिस तरह से बाल विवाह को बढ़ावा दिया गया था, उस से एकदम आगे चलकर कलर्स टीवी की ‘इंगा वीटु मापिल्लई’ सीरियल में प्रतियोगी लड़कियों से इस्लाम क़बूलने का सवाल पूछकर ‘लव जिहाद’ और ‘धर्मान्धता’ को बढ़ावा देने की कोशिश की है.


एक सार्वजनिक शो में संप्रदायिकता का ज़हर घोलना यह अत्यंत नीच और बेशर्म हरकत है.

‘इंगा वीटु मापिल्लई’ तमिल भाषा का मैरिज रीऐलिटी शो है जो कलर्स तमिल पर प्रसारित होता है. इसका हिंदी अर्थ होता है ‘हमारे घर के लिए दूल्हा’. यह कुछ वैसा ही शो है जैसा ‘राहुल दुल्हनिया ले जाएँगे’ था.

‘इंगा वीटु मापिल्लई’ में इस बार के दूल्हा और जज हैं तमिल फ़िल्मों का जानामाना चेहरा – आर्य. दरअसल उनका असल नाम जमशाद हैं और वे मुस्लिम है लेकिन ‘आर्य’ को स्टेज नाम के रूप में इस्तेमाल करते है!

आर्य के मुसलमान होने की वजह से 28 फरवरी 2018 को ऑन- एयर हुए इस शो में होस्ट वारालक्ष्मी ने प्रतियोगी लड़कियों से शो में भाग लेने और आर्य से सम्बंधित कुछ सवाल पूछे.

वारालक्ष्मी द्वारा पूछे गए सवालों में एक सवाल यह भी था कि “शादी के बाद यदि आर्य दबाव डालते हैं तो क्या आप इस्लाम क़बूल कर लेंगी?”

इस सवाल के जवाब में कुछ प्रतियोगी लड़कियों ने ना कहा और कुछ ने हाँ. लेकिन बात यहाँ आके नहीं रुकती! एक सार्वजनिक शो में इस तरह से संप्रदायिकता का ज़हर घोलना यह अत्यंत नीच और बेशर्म हरकत है. होस्ट द्वारा पूछा गया यह सवाल शो की स्क्रिप्ट और चैनल की मंशा पर भी सवालिया निशान खड़े करता है कि “क्या एक मुस्लिम युवक से शादी करने के लिए युवती को इस्लाम क़बूल करना ज़रूरी है?”



चूँकि भारत की फ़िल्मी दुनिया में हिंदू अभिनेत्रियों का शादी के लिए इस्लाम क़बूल करना जगज़ाहिर है इसलिए क्या इसे वैचारिक प्रथा समझ लेना चाहिए?

शो के ऑन-एयर होने के बाद से सोशल मीडिया पर मानो युद्ध सा छिड़ गया है. तमिलनाडु से भाजपा के पूर्व-विधायक और वर्तमान में राष्ट्रीय सचिव एच राजा ने एक ट्विटर यूज़र के ‘लव जिहाद’ वाले ट्वीट को समर्थन देते हुए लिखा कि, “यदि हम ऐसा पूछें तो हमें साम्प्रदायिक क़रार दिया जाता है. यह निर्लज्ज और घिनौना है.”

इस घटना पर एच राजा के अलावा कुछ सोशल मीडिया यूज़र्स कलर्स पर कार्यवाही की माँग रहे हैं, कुछ होस्ट को आड़े हाथों ले रहे हैं, वहीं कुछ पूछ रहे हैं कि “यदि टीवी पर किसी मुस्लिम लड़की को हिंदू धर्म अपनाने की बात कही होती तो देश में क्या नज़ारा होता?”

ये भी पढ़ें: 

एडिटर कैरी ग्रेसी का इस्तीफा: ये हैडलाइन बीबीसी से ही कॉपी है – “महिला है, इसे कम वेतन दो…”

वाईस मीडिया के मौजूदा खुलासे ख़बरों के उभरते लिबरल अड्डों की टोह लेने को कह रहे हैं


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

समर्थन में समर्थन में
10
समर्थन में
विरोध में विरोध में
0
विरोध में
भक साला भक साला
0
भक साला
सही पकडे हैं सही पकडे हैं
0
सही पकडे हैं
Choose A Format
Personality quiz
Series of questions that intends to reveal something about the personality
Trivia quiz
Series of questions with right and wrong answers that intends to check knowledge
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Audio
Soundcloud or Mixcloud Embeds
Image
Photo or GIF
Gif
GIF format